Header advertisement

ऑफिस के बाद बॉस नहीं कर पाएगा परेशान! Boss will not be able to bother after office!

ऑफिस के बाद बॉस नहीं कर पाएगा परेशान! Boss will not be able to bother after office!


In this post you can learn about office employ new rights




 एनसीपी सांसद सुप्रिया सुले ने लोकसभा में एक प्राइवेट मेंबर बिल को पेश किया है, जिसके बारे में पढ़कर देश के सारे नौकरीपेशा लोग झूम उठेंगे |

❌  इस बिल में ऐसा प्रावधान है जिसके मुताबिक, नौकरी करने वाले लोग अपने ऑफिस आवर्स के बाद कंपनी से आने वाले फोन कॉल्स और ईमेल का जवाब न देने का अधिकार हासिल कर लेंगे |

👦 'द राइट टू डिस्कनेक्ट' बिल कर्मचारियों के स्ट्रेस और टेंशन को कम करने की सोच के साथ लाया गया है. इससे कर्मचारी के पर्सनल और प्रोफेशनल लाइफ के बीच के तनाव को कम करने में मदद मिलेगी |

👉👌 अगर यह बिल कानून का रूप ले लेगा तो ऑफिस आवर्स के बाद किए गए मेल का जवाब न देने पर कंपनी अपने कर्मचारियों के खिलाफ कोई कार्रवाई नहीं कर पाएगी. अगर कर्मचारी तय समयसीमा से अधिक कार्य करता है, तो उसे ओवरटाइम माना जाएगा |

No comments:

Powered by Blogger.