योग क्या है? What is yoga? its benefit, types and rules in hindi

What is yoga its instruction, benefit and rules in Hindi

अब हम इस पोस्ट में आपको Yoga या कोई भी exercise करने के पहले किन बातों का ध्यान रखना चाहिए यह बताने वाले हैं और दोस्तों यह बहुत जरूरी है कि, आप इन सभी नियमों yoga and exercise instruction का पालन करें | जिससे आप को yoga and exercise benefit मिल सके |
In this article you will learn about instructions for yoga beginners, how to do yoga and yoga rules in hindi and also aapko yoga karne ke niyam hindi me btaya gya hai on www.happiness-guruji.com

योग क्या है? - What is yoga?

Yoga शब्द वेदों उपनिषदों गीता एवं पुराणों आदि में अति पुरातन काल से ही चला आया है | भारतीय दर्शन में योग एक अति महत्वपूर्ण शब्द है | आत्मदर्शन, समाधि से लेकर कर्म क्षेत्र तक योग का व्यापक व्यवहार हमारे शास्त्रों में जुड़ा हुआ है | महर्षि पतंजलि के अनुसार yoga का अर्थ इस प्रकार है - जब अभ्यास एवं वैराग्य आदि साधनों से मन में लय को प्राप्त हो जाते हैं और मन आत्मा के स्वरूप में अवस्थित हो जाता है तब yoga होता है |
संक्षेप में हम कह सकते हैं कि संयम पूर्वक साधना करते हुए आत्मा का परमात्मा के साथ मिलन या जोड़ना और उसका आनंद लेना ही yoga है |
भगवत गीता में श्री कृष्ण yoga को विभिन्न अर्थों में प्रयुक्त करते हैं | अनुकूलता-प्रतिकूलता, सफलता-विफलता, जय-पराजय इन समस्त भागों में आत्मनिष्ठ रहते हुए संतुलन की स्थिति में रहने को yoga कहते हैं |
वास्तव में yoga हमें शीर्ष आनंद की अनुभूति प्रदान करता है | अगर आप कोई डिप्रेशन में है यह तनाव में है तो आपको yoga अवश्य करना चाहिए | yoga करने से आप आनंद को प्राप्त होंगे और मन हमेशा प्रसन्न रहेगा |

योग के प्रकार - Types of yoga in Hindi

शास्त्रों के अनुसार yoga के 4 प्रकार माने गए हैं | तो आइए देखते हैं उन चारों प्रकार को
  1. मंत्र योग
  2. लययोग
  3. हठयोग
  4. राजयोग

योग का लाभ - Benefits of yoga and exercise in Hindi

  • शारीरिक और मानसिक दृष्टि से yoga के अनेक benefits है | क्योंकि यह सद्भाव और एकीकरण के सिद्धांतों पर काम करता है |
  • Yoga के benefits की बात की जाए तो इसके द्वारा अस्थमा, मधुमेह, रक्तचाप, गठिया, पाचन संबंधी बीमारी और अन्य बीमारी में उपचार संभव है |
  • खासतौर से वहां जहां आधुनिक विज्ञान आजतक उपचार देने में सफल नहीं हुआ है |
  • HIV पर yoga के प्रभावों पर अभी अनुसंधान चल रहा है आशा है कि अच्छे परिणाम निकल कर हमारे सामने आएंगे |
  • इसके अलावा देखें तो योग के कई आध्यात्मिक दृष्टि से benefits है | लेकिन इनको कहीं पर लिखकर या किसी भी वीडियो के माध्यम से बता कर समझाया नहीं जा सकता |
  • आध्यात्मिक benefits को केवल महसूस किया जाता है | जब आप yoga करेंगे तब आप खुद ब खुद समझ जाएंगे | इसके लिए जरूरी है कि आप yoga करना चालू करें क्योंकि yoga मानसिक शारीरिक आत्मिक अध्यात्म की दृष्टि से सेहत में भी सुधार लाता है |

योग में बरती जाने वाली सावधानी - Yoga and exercise rules in Hindi

तो चलिए जानते हैं yoga के नियम -
  • Yoga को भोजन के 6 घंटे बाद और दूध पीने के 2 घंटे बाद करना चाहिए, वैसे तो योगासन खाली पेट ही किया जाए तो बहुत ही अच्छी बात है |
  • शौच स्नान आदि करके ही yoga asana किया जाए तो बहुत अच्छा है | क्योंकि इससे आपका मन इधर-उधर भटकेगा नहीं और आप ध्यान लगा पाएंगे और yoga asana करते समय ध्यान लगाने से बहुत फायदा होता है |
  • Yoga asana करते समय सांस मुंह से ना लेकर नाक से ही लेना चाहिए यह बहुत जरूरी है |
  • गरम कंबल, चटाई या ऐसा ही कुछ बिछाकर आसन करें | क्योंकि यदि आप बिना चटाई आसन करेंगे तो आपके शरीर में उत्पन्न होने वाली energy and power और विद्युत प्रवाह नष्ट हो जाएगा |
  • Yoga करते समय शरीर के साथ जबरदस्ती ना करें. क्योंकि यह कोई एक्सरसाइज नहीं है | जैसे हम जिम में करते हैं. अतः आराम से ही करें |
  • Yoga asana करने के बाद ठंड में या तेज हवा में ना निकले अगर आपको नहाना हो तो थोड़ी देर बाद ही नहाए |
  • Yoga asana करते समय शरीर पर कपड़े कम से कम और ढीले ही पहनना चाहिए | ताकी body stretching में मदद मिले |
  • जब भी कोई yoga asana करते हैं तो उसके आखरी में शवासन जरूर करना चाहिए | जिससे कि आपकी सभी नसों को और शरीर को आराम मिलेगा और रक्त प्रवाह normal हो जाएगा |
  • Yoga asana या कोई भी एक्सरसाइज करने के बाद टॉयलेट अवश्य कर लें | जिससे आप में जमा हुआ दूषित और गंदा तत्व या बैक्टीरिया बाहर निकल जाए |
  • Yoga asana करते समय yoga में बताए हुए चक्र पर ध्यान करने से और मानसिक जप करने से अधिक benefit होता है |
  • Yoga asana या exercises करने के बाद थोड़ा ताजा जल पीना लाभदायक होता है | पानी पीने से आपको ऑक्सीजन और हाइड्रोजन मिलती है | जिससे कि आपके अंदर से पुराने विषैले तत्व निकलते हैं और नए तत्व बनते हैं |
  • स्त्रियों को गर्भावस्था और मासिक धर्म की अवधि में कोई भी आसन या yoga कभी नहीं करना चाहिए |
  • अगर आप healthy रहना चाहते हैं तो 5-6 तुलसी के पत्ते morning me चबाकर खाना चाहिए और पानी पीना चाहिए | इससे आपकी स्मरण शक्ति (Memory power) बढ़ती है और गैस (acidity) एवं अन्य रोगों में भी फायदा पहुंचता है और आप फिट (fit) हो जाते हैं |

योग कब करना चाहिए या योग करने का सही समय क्या है - What is the perfect and correct time for yoga in Hindi

  • अगर आप सुबह सूर्योदय से पहले yoga के लिए समय निकालें तो बहुत अच्छा है |
  • अगर आप सुबह कुछ काम में बिजी है तो आप शाम के समय सूर्यास्त के समय भी yoga कर सकते हैं |
तो इस तरह Instructions for Yoga आर्टिकल के माध्यम से जाना, yoga करने के तरीके या कोई भी एक्सरसाइज करने से पहले किन नियमों का पालन जरूरी है. आगे आने वाले पोस्ट के साथ बने रहिए |

No comments:

Powered by Blogger.